Direct Selling Guidelines 2022 PDF in Hindi

हम इस पोस्ट में Direct Selling Guidelines 2022 PDF in Hindi, Direct Selling Rules 2021 in Hindi, Direct Selling Laws 2021 जो Department of Consumer affairs, भारत सरकार द्वारा दिसंबर 2021 को जारी की गई हैं।, के बारे में विस्तार से बताएंगे, और इन गाइडलाइन को download करने का भी लिंक देंगे। बहुत से हमारे साथियों को कन्फ्यूजन रहता है, कि Direct Selling, MLM (Multi Level Marketing) और Network Marketing अलग अलग हैं, लेकिन आज मैं उन दोस्तों का confusion दूर कर देता हूं कि ये सभी एक ही हैं।

Direct Selling Business भारत में 1990 के आसपास से शुरू हुआ था। तब हमारे देश में नेटवर्क मार्केटिंग बिजनेस के लिए कोई नियम कानून  नही था। इसलिए इस बिजनेस की आड़ में बहुत सी फर्जी कंपनी आई और लोगो के पैसे लेकर गायब हो गई। इसी वजह से डायरेक्ट सेलिंग इंडस्ट्री बदनाम हुई थीं। और सही डायरेक्ट सेलिंग कंपनियों को बहुत सी परेशानी का सामना करना पड़ रहा था।

अच्छी कंपनियां और डायरेक्ट सेलिंग लीडर्स भारत सरकार से बहुत से सालों से डायरेस्ट सेलिंग पर गाइडलाइन जारी करने के लिए दबाव बना रहे थे। इसी लिए और MLM business की अच्छाई को देखते हुए डिपार्टमेंट ऑफ कंज्यूमर अफेयर्, भारत सरकार ने पहली बार 2016 में Direct Selling Guidelines 2016 जारी की थी। इन गाइडलाइंस के आने से जो फर्जी कंपनियां थी, वो बंद हो गई। और अच्छी MLM कंपनियों को बहुत फायदा हुआ।

जो डायरेक्ट सेलिंग गाइडलाइन 2016 में जारी की गई थी। इन्ही गाइडलाइंस को 2021 में संशोधित किया है। और डायरेक्ट सेलिंग गाइडलाइंस 2021 जारी की हैं। Direct Selling Guidelines 2022 में उपभोक्ता को ध्यान में रखकर बनाई है।

direct selling guidelines 2022

सभी डायरेक्ट सेलिंग कम्पनी ग्राहकों को सामान या समाधान प्रदान करती हैं। भारत में सभी नेटवर्क मार्केटिंग कम्पनी और उनके ऊर्जावान सदस्य निश्चित रूप से नई ग्राहक सुरक्षा प्रत्यक्ष बिक्री नीतियों, 2021 के अधीन होंगे। ग्राहक सुरक्षा डायरेक्ट सेलिंग नीति, 2021 के अन्तर्गत राज्य सरकारों को सीधे विक्रेताओं या नेटवर्क मार्केटिंग कंपनियों के संचालन की निगरानी या विनियमन के लिए एक प्रणाली विकसित करने की आवश्यकता पर जोर दिया है।

इसके अलावा, डायरेक्ट सेलिंग कंपनियां भी ग्राहक की किसी भी प्रकार की समस्याओं के लिए जवाबदेह होगी, जो उसके डायरेक्ट सेलर्स द्वारा बिक्री से उत्पन्न होती हैं। सभी डायरेक्ट सेलर और नेटवर्क मार्केटर को डायरेक्ट सेलिंग गाइडलाइन 2022 के बारे में पूरा पता होना चाहिए। जिससे को अपने और अपनी टीम को गलत कंपनियों से बचा सके और अपनी कंपनी को नीतियों की भी जांच कर से। और गलत नीतियों का विरोध कर सके।

Direct Selling Guidelines 2021

डायरेक्ट सेलिंग गाइड्लाइन 2022 की धारा 1 और धारा 2 मे इस नियम के नाम और किस पर लागू होगा उसके बारे मे बताया गया है।

Direct Selling Law 2021 in Hindi

धारा 3: परिभाषा

सबसे पहले Direct Selling Guidelines 2022 में जो शब्द आए हैं उनकी परिभाषा दी गई हैं।  डायरेक्ट सेलिंग गाइडलाइन को समझने से पहले इन शब्दों की परिभाषा जानना जरुरी है।

Cooling Off Period: यह वह समय अवधि है, जो अनुबंध के उल्लंघन के परिणाम या जुर्माना लगाने के बिना, डायरेक्ट सेलर द्वारा डायरेक्ट सेलिंग बिजनेस शुरू करने के लिए किए गए अनुबंध को रद्द करने के लिए डायरेक्ट सेलर को दी जाती हैं।

Direct Seller :- डायरेक्ट सेलर वह person होता है,जो डायरेक्ट सेलिंग बिजनेस करने के लिए डायरेक्ट सेलिंग कंपनी से आधिकारिक रूप से जुड़ता है। और कंपनी के प्रोडक्ट/सर्विस की बिक्री और उपयोग करता है।

Direct Selling Entity: यह वह इकाई होती हैं, जो डायरेक्ट सेलिंग के माध्यम से अपने प्रोडक्ट या सर्विस की बिक्री करती हैं। परंतु इसमें ऐसी इकाई शामिल नही है जो पिरामिड स्कीम या money circulation scheme का संचालन करती हो। यानिकि डायरेक्ट सेलिंग कंपनी को ही Direct Selling Entity कहा जाता हैं।

Money circulation scheme : ये वो स्कीम होती हैं जिसमे कोई प्रोडक्ट या सर्विस नहीं होती हैं,  केवल पैसों को इधर से उधर किया जाता हैं। ये सभी स्कीम illegal हैं। इनका प्रोडक्ट और सर्विस सिर्फ दिखाने के लिए होते हैं।

Miss Selling: जब किसी प्रोडक्ट्स या सर्विस को किसी ग्राहक को गलत जानकारी देकर बेचा जाता हो।

Prospect: वो भावी ग्राहक जिसको डायरेक्ट सेलिंग कम्पनी में ज्वाइन करने के लिए संपर्क किया जाए।

Pyramid Scheme: लोगो का समूह जो Multi Level Network के द्वारा जुड़ा होता है, और लोगो को इस समूह में सिर्फ ज्वाइन कराने पर प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रुप से कुछ फायदा हो। पिरामिड स्कीम बिजनेस करने के लिए  डायरेक्ट सेलिंग/ MLM business का सहरा लेती हैं। इस प्रकार कि सभी Multi Level Network पिरामिड स्कीम गैर कानूनी होती है।

Network of Direct Seller : डायरेक्ट सेलर नेटवर्क में बहुत से लोग किसी डायरेक्ट सेलिंग कंपनी में डायरेक्ट सेलर की हैसियत से अलग-अलग लेवल पर जुड़े होते है। जब कोई व्यक्ति किसी दूसरे व्यक्ति को अपनी डायरेक्ट सेलिंग कंपनी में बतौर डायरेक्ट सेलर ज्वाइन कराता है, तो वो दोनों व्यक्ति एक नेटवर्क का हिस्सा बन जाते है। नेटवर्क में कोई व्यक्ति उपर तो कोई व्यक्ति नीचे होता है।

Product/Service: प्रोडक्ट/सर्विस यूज करने और बेचने लायक होनी चाहिए, और जो Expire ना हो। Product/Service किसी खास प्रमोशन, किसी खास मौसम के लिए ना हो, और ना ही पुरानी हो जिसका अब कोई महत्व ना रहा हो।

Direct Selling: डायरेक्ट सेलिंग कम्पनी का मार्केटिंग, डिस्ट्रीब्यूशन और प्रोडक्ट/ सर्विस को डायरेक्ट सेलर के द्वारा यूज करना या बेचना डायरेक्ट सेलिंग मे आता है।

Consumer: उपभोक्ता वो होता है, जो डायरेक्ट सेलिंग कंपनी के प्रोडक्ट/सर्विस को इस्तमाल करता है। किसी भी उपभोक्ता को कंपनी से डायरेक्ट सेलर जोड़ता है, और कोई भी उपभोक्ता डायरेक्ट सेलर बन सकता है।

धारा 4: रिकॉर्ड का रखरखाव

किसी भी डायरेक्ट सेलिंग कंपनी को अपने रिजिस्ट्रेड कार्यालय में  निम्नलिखित द्षतावेज को हार्ड कॉपी रूप से या सॉफ्ट कॉपी के रूप मे रखना होगा।

  1. निगमन प्रमाणपत्र;
  2. संज्ञम ज्ञापन और संगम अनुच्छेद
  3. स्थायी खाता संख्या और कर कटौती और संग्रहण खाता संख्या;
  4. माल और सेवा कर रजिस्ट्री;
  5. माल और सेवा कर विवरनी; 
  6. आयकर विवरनी;
  7. बैलेंस सीट, ऑडिट रिपोर्ट और ऐसी अन्य संगत रिपोर्ट;
  8. प्रत्यक्ष विक्रेताओं की पंजिका;
  9. आयात निर्यात कोड प्रमाण-पत्र (आयतित माल के मामले में);
  10. खाद्य पदाथों के विनिर्माण या बिक्री के प्रयोजन से भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण के अधीन जारी अनुज्ञपती;
  11. आयुर्वेदिक, सिद्धा और  यूनानी दवाओ और होम्योपैथिक औषधीयों सहित औषधीयों के लिए औषधि और प्रशासन सामग्री अधिनियम के जारी प्रमाणपत्र;
  12. व्यापार चिन्ह रजिस्ट्रीकरण का प्रमाणपत्र।

नवीनतम पोस्ट :-

धारा 5 : डायरेक्ट सेलिंग कंपनीयो की जिम्मेदारियाँ

  1. प्रत्येक डायरेक्ट सेलिंग कम्पनी को –
    1.  कंपनी कंपनी अधिनियम, भागीदारी अधिनियम के अंतर्गत रजिस्ट्रीड होना होगा।
    2. कंपनी के पास भारत में कम से कम एक रजिस्टर्ड कार्यालय के रूप में एक भौतिक स्थान हो। 
    3. कंपनी को ये घोषणा करनी होगी कि कंपनी Direct Selling Guidelines को फॉलो करती हैं, और किसी परामिड स्कीम और Money Circulation Scheme में सम्मिलित नही है।
    4. कंपनी की एक वेबसाइट हो जिस पर कम्पनी के डॉक्युमेंट्स, घोषणा पत्र, प्रोडक्ट्स की कंप्लीट जानकारी, नोडल अधिकारी, शिकायत अधिकारी की संपूर्ण जानकारी हो।
    5. कंपनी के पास अपनी सर्विस और प्रोडक्ट्स के लिए व्यापार चिन्ह, सेवा चिन्ह हो और कंपनी द्वारा उप्लब्ध करवाये जाने वाले प्रोडक्ट/सर्विस के पहचान की जिम्मेदारी मालिक, ट्रेडमार्क चिन्ह, सेवा चिन्ह और अन्य पहचान चिन्ह के लाइसेंसधारक की होगी।
    6. स्थायी खाता संख्या और माल और सेवा कर सहित सभी लागू व्यापार रजिस्ट्रीकरण और अनुज्ञप्ति  प्राप्त करना; 
    7. कंपनी सचिव द्वारा विधिवत प्रमानित अपनी वेबसाईट पर प्रदान की गई सभी जानकारी; 
    8. डायरेक्ट सेलर का साथ अपनी सेवा और सर्विस की बिक्री के लिए अनुबंध हो जिसमे न्याय संगत शर्त हों।
    9. यह सुनिश्चित करना कि सभी डायरेक्टर सेलर के पास valid पहचान पत्र और भौतिक पता है। और ऐसे ही डायरेक्टर सेलर को ही पहचान पत्र जारी करे।
    10. ये सुनिश्चित करना के उनके प्रोडक्ट्स और सेवाओं को जो डायरेक्ट सेलर द्वारा दी जा रही है, वो नीतियों के अन्तर्गत हों।
    11. डायरेक्ट सेलर द्वारा उत्पन होने वाली शिकायतों के लिए जिम्मेदार होना।
  2. डायरेक्ट सेलिंग कंपनी अपनी वेबसाइट पर सभी जानकारी देंगी, जैसे कि कंपनी का नाम, पता, शिकायत अधिकारी का ईमेल, फैक्स, मोबाइल नंबर,  शिकायत का लेखाजोखा,  प्रोडक्ट्स की कंप्लीट डिटेल्स, पेमेंट के तरीके इत्यादि जानकारी।
  3. डायरेक्टर सेलिंग कम्पनी अपनी बिक्री के लिए कोई भी अनुचित व्यापार प्रथा नहीं अपनाएगी।
  4. डायरेक्टर सेलिंग कम्पनी अपने डायरेक्ट सेलर के संवेदनशील डाटा को स्टोर रखेंगी और इस डाटा का दुरुप्रयोग ना हो ये सुनिश्चित करेंगी।
  5. डायरेक्ट सेलिंग कंपनी शिकायतों के निवारण करने के लिए कंप्लेट procedure बनाएगी। और आवश्यक भर्ती करेगी।
  6. डायरेक्ट सेलिंग कंपनी नोडल अधिकारी नियुक्त करेंगी जो direct Selling Guidelines follow सुनिश्चित कराने के लिए जिम्मेदार होगा।
  7. डायरेक्टर सेलिंग कम्पनी अपने सभी डायरेक्टर सेलर का रिकॉर्ड रखेगी और उनकी संपूर्ण जानकारी का भी रिकॉर्ड रखेंगी।
  8. डायरेक्टर सेलिंग कम्पनी उसके प्रॉडक्ट/सर्विस की विशेषताओं, उपलब्धताओ की गलत जानकारी न दी जाए, ये सुनिश्चित करेंगी।
  9. कंपनी के प्रबंधक और अध्यक्ष पदों पर मौजूद लोगो में से किसी भी व्यक्ति पर दंडनीय अपराध का मामला पिछले 5 साल तक किसी भी कोर्ट में ना रहा हो।
  10. कंपनी का हर राज्य में क्षेत्राधिकार कायार्लय होना जरूरी है। जहाँ से सभी प्रोडक्ट/सर्विस का लेन-देन व समस्यों का निवारण हो।
  11. कंपनी अपने डायरेक्ट सेलर से निश्चित रूप से प्रोडक्ट/सर्विस की बिक्री की उम्मीद नही कर सकती है। यह डायरेक्ट सेलर पर निर्भर करता है, कि वह कितनी बिक्री कर सकता है। इसलिए कंपनी मात्रा और राशि अनुसार निश्चित बिक्री हर डायरेक्ट सेलर के लिए तय नहीं कर सकती।
  12. डायरेक्ट सेलर के कहने पर कंपनी को प्रोडक्ट/सर्विस को वापस लेना होगा , अगर प्रोडक्ट/सर्विस बेचने योग्य हो ।
  13. कंपनी को डायरेक्ट सेलर और उपभोक्ताओं से आने वाली शिकायतों और समस्याओं का निपटारा जल्द से जल्द करना होगा।

धारा 6 : डायरेक्ट सैलर की ज़िम्मेदारी:

  1. प्रत्येक डायरेक्ट सेलर के पास डायरेक्ट सेलिंग कंपनी का पूर्व लिखित प्लान हो।
  2. डायरेक्टर सेलर कंपनी के प्रोडक्ट्स या सर्विस की Nature, कंपनी की जानकारी, कंपनी का प्लान की संपूर्ण जानकारी लेगा।
  3. भावी ग्राहक को सटीक और संपूर्ण जाकारी शेयर करेगा जैसे कि प्रोडक्ट्स / सर्विस कीमत, रिफंड नीति, भुगतान की शर्ते, बिक्री पश्चात की शर्ते आदि।
  4. भावी ग्राहक का रजिस्ट्रेशन करने और पहली बिक्री करने के समय कंपनी की संपूर्ण नीतियों को विस्तार से बताना होगा। जैसे कि
    • डायरेक्ट सेलर को अपना नाम, पता, रजिस्ट्रेशन नंबर,टेलीफोन नंबर और कंपनी की पूरी जानकारी।
    • उपभोक्ता को दिए जाने वाले प्रोडक्ट/सर्विस का सम्पूर्ण विवरण।
    • बिक्री से पहले कंपनी के प्रोडक्ट/सर्विस की वापसी नीति की पूरी जानकारी।
    • आर्डर की तारीख, उपभोक्ता द्वारा दी गयी कुल राशि, बिल और रसीद सहित।
    • समय और जगह जहाँ प्रोडक्ट/सर्विस का विवरण किया हो और डिलीवर किया हो।
    • प्रोडक्ट/सर्विस को रद्द करने का अधिकार और अगर प्रोडक्ट बेचने योग्य हो, तो रिफंड प्रकिया की पूरी जानकारी।
    • समस्या का निवारण करने की प्रक्रिया की पूरी जानकारी।
  5. डायरेक्ट सेलिंग गाइडलाइंस, कंपनी नीतियों का संपूर्ण अनुपालन करेगा।
  6. डायरेक्ट सेलर ये सुनिश्चित करेगा कि उसको जो प्रोडक्ट या सेवा दी गई है वो उसकी जरूरत के हिसाब से हैं।
  7. भावी ग्राहक द्वारा दी गई उसकी संवेदनशील जानकारी की सुरक्षा सुनिश्चित करेगा।
  8. कोई डायरेक्ट सेलर यह नहीं करेगा :-
    • भावी ग्राहक के पास बिना अपॉटमेंट और बिना पहचान पत्र के उसके परिसर जाना ।
    • डायरेक्टर सैलर भावी ग्राहक को कोई ऐसा साहित्य दे जिसका डायरेक्ट सेलिंग कंपनी ने अनुमोदन न किया हो।
    • डायरेक्टर सैलर भावी ग्राहक से कोई भी साहित्य या बिक्री प्रोडक्ट खरीदने की अपेक्षा रखना।
    • डायरेक्टर सैलर भावी ग्राहक से कोई ऐसा दावा करे जिसका कंपनी ने दावा नही किया हो।
    • गलत जानकारी देकर लोगों को आकर्षित कर अपने नेटवर्क में लाना।
    • उपभोक्ताओं से ऐसे वादे करना जो शत-प्रतिशत पूरे ना हो। और उन्हें झूठे सपने दिखाकर लोगों को बहकना।
    • अपने उपभोक्ता को डायरेक्ट सैलिंग की झूठे और कपटपूर्ण तरीके से अच्छाई बताना।
    • अपने नीचे जुड़ने वाले डायरेक्ट सेलर को ज़बरदस्ती ज़्यादा मात्रा में प्रोडक्ट ख़रीदने के लिए मजबूर करना।

Direct Selling Guidelines In Hindi

धारा 7: डायरेक्ट सेलिंग कंपनी और डायरेक्ट सेलर के कर्तव्य

  1. डायरेक्ट सेलिंग कंपनी और डायरेक्ट सेलर ये सुनिश्चित करेंगे कि
    1. प्रस्ताव की सभी शर्ते पूरी तरह से स्पष्ट हो जिससे उपभोगता को स्पष्ट जानकारी मिल सके।
    2. डायरेक्ट सेलिंग में प्रयुक्त डॉक्युमेंट्स या अन्य विवरणों के किसी भी विवरण में ऐसा दावा ना हो जिससे ग्राहक के गुमराह हाने की संभावना हो।
    3. प्रोडक्ट्स /Service की सही और संपूर्ण जानकारी दी जाए। और सभी शर्ते और नीतियों की जानकारी दी जाए।
    4. कोई गलत और अनुचित व्यवहार  का प्रयोग नहीं किया जाए।
    5. जो भी तथ्य और दावे किए जाए उनको परमानित किया जा सके।
    6. भावी ग्राहक को गलत,अधूरी जानकारी और लालच नही दे सकती है।
    7. किसी भी भ्रामक, भ्रामक या अनुचित व्यापार प्रथाओं का उपयोग नहीं किया जाता है।
    8. डायरेक्ट सेलिंग को बाजार अनुसंधान के एक रूप में उपभोक्ता को प्रस्तुत नहीं किया जाता है।
    9. प्रचार साहित्य, विज्ञापन या मेल में डायरेक्ट सेलिंग कंपनी का नाम और पता या टेलीफोन नंबर हो और डायरेक्ट सेलर का मोबाईल नंबर भी शामिल हों।
    10. किसी गारंटी या वारंटी की शर्तें, जिसमें गारंटर का नाम और पता शामिल है, उपभोक्ता के लिए आसानी से उपलब्ध होगी और उपभोक्ता अधिकारों या उपायों पर सीमाएं, जहां कानून द्वारा अनुमति दी गई है, स्पष्ट और विशिष्ट होगी।
    11. प्रस्ताव की प्रस्तुति में कोई प्रशंसापत्र, समर्थन या सहायक दस्तावेज शामिल नहीं हो जो वास्तविक, सत्यापन योग्य और प्रासंगिक न हो
    12. उपभोक्ता के लिए खुली उपचारात्मक कार्रवाई आदेश प्रपत्र में स्पष्ट रूप से निर्धारित की जाएगी।
    13. डायरेक्ट सेलिंग कंपनी द्वारा प्रस्तावित वापसी का अधिकार लिखित रूप में होना चाहिए।
    14. जब बिक्री के बाद सेवा की पेशकश की जाती है, तो सेवा का विवरण गारंटी में शामिल किया जाता है। और यदि उपभोक्ता प्रस्ताव को स्वीकार करता है, तो जानकारी दी जाएगी कि कैसे उपभोक्ता सेवा को सक्रिय कर सकता है। और सेवा एजेंट के साथ संवाद कर सकता है।
    15. प्रोडक्ट/सर्विस कीमत और भुगतान की शर्तें स्पष्ट रूप से किसी भी अतिरिक्त शुल्क की प्रकृति जैसे डाक, हैंडलिंग और करों की प्रकृति के साथ प्रस्ताव में स्पष्ट रूप से बताई जाएंगी।
    16. किसी भी अन्य प्रकार के क्रेडिट की लागत, ब्याज और शर्तों को समझने के लिए उपभोक्ता द्वारा आवश्यक कोई भी जानकारी या तो ऑफ़र में या जब क्रेडिट की पेशकश की जाती है, पूरी तरह से दी जाए।
    17. जब तक कि ऑफ़र की अवधि और ऑफ़र में कीमत स्पष्ट रूप से न बताई गई हो, कीमतों को उचित अवधि के लिए बनाए रखा जाएगा।
    18. भुगतान और ऋण वसूली की प्रक्रिया किसी भी अनुबंध पर हस्ताक्षर करने से पहले लिखित रूप में निर्धारित की जाएगी और यह इस प्रकार होगी कि उपभोक्ता के नियंत्रण से बाहर देरी के लिए उचित भत्ता देकर उपभोक्ता को अनुचित असुविधा से बचा जा सके।
    19. Legal Metrology Act, 2009 (1 of 2010) के प्रावधानों और उसके तहत बनाए गए नियमों का पालन किया जाएगा।
  2. डायरेक्ट सेलिंग कंपनी और डायरेक्ट सेलर ये नहीं करेगें:
    1. कपटपूर्ण गतिविधियों या बिक्री में शामिल हों और यह सुनिश्चित करने के लिए उचित कदम उठाएंगे कि प्रतिभागी झूठे या भ्रामक अभ्यावेदन या धोखाधड़ी, जबरदस्ती, उत्पीड़न, या अचेतन या गैरकानूनी साधनों के किसी अन्य रूप में लिप्त न हों।
    2. उपभोक्ताओं को उत्पादों या सेवाओं की गलत बिक्री में शामिल होना।
    3. किसी भी ऐसे आचरण में शामिल होना जो उसके डायरेक्ट सेलिंग बिजनस या प्रोडक्टस/सर्विस से संबंधित किसी भी भौतिक विवरण के संबंध में भ्रामक या गुमराह करने वाला हो
    4. अपने डायरेक्ट सेलिंग बिजनस को बढ़ावा देने के लिए, या अपने सामान या सेवाओं की बिक्री के लिए, किसी भी कपटपूर्ण, जबरदस्ती, अचेतन या गैरकानूनी साधनों का उपयोग।
    5. कोई प्रवेश शुल्क या सदस्यता शुल्क लेना।
    6. नकली सामान या सेवाओं की कमी को वापस लेने से इनकार करना और प्रदान की गई वस्तुओं और सेवाओं के लिए भुगतान किए गए प्रतिफल को वापस करना।
  3. डायरेक्ट सेलिंग कंपनी और डायरेक्ट सेलर सभी प्रासंगिक कानूनों की आवश्यकताओं का पालन करेगा, जिसमें करों का भुगतान और उसके तहत कटौती शामिल है।
  4. डायरेक्ट सेलिंग कंपनी और डायरेक्ट सेलर उपभोक्ताओं को इस प्रतिनिधित्व के आधार पर खरीदारी करने के लिए प्रेरित नहीं करेंगे, कि वे संभावित ग्राहकों को समान खरीद के लिए प्रत्यक्ष विक्रेताओं को संदर्भित करके कीमत को कम या पुनर्प्राप्त कर सकते हैं।

धारा 8: ऐसे व्यक्ति जिन्हे डायरेक्ट सेलिंग बिजनस मे नहीं लाना है

कोई ऐसा व्यक्ति जो पिछले 5 सालों मे दिवालिया रहा हो, या अपराधी रहा हो। मंदबुद्धि व्यक्ति को भी डायरेक्ट सेलिंग बिजनस मे नहीं लाया जा सकता है।

धारा 9 : E-Commerce Rules का अनुपालन

डायरेक्ट सेलर और डायरेक्ट सेलिंग कंपनिया Consumer protection (e-Commerce) Rules 2020 का अनुपालन करेगे।

धारा 10: परामिड स्कीम और Money Circulation Scheme पर रोक

  1. कोई भी डायरेक्ट सेलिंग कंपनी या डायरेक्ट सेलर, पिरामिड स्कीम का समर्थन नही करेगा और किसी ओर व्यक्ति को पिरामिड स्कीम से जुड़ने को प्रेरित भी नही करेगा।
  2. कोई भी डायरेक्ट सेलर डायरेक्ट सेलिंग के अवसर पर किसी भी परामिड स्कीम और money circulation scheme में शामिल नहीं हो सकता हैं।

डायरेक्ट सेलिंग कंपनियों के बारे में विस्तार से जाने : –

धारा 11: निगरानी प्राधिकरण की नियुक्ति

  1. उपभोक्ता और कंपनी के बीच मामले की निगरानी/जांच उस राज्य उपभोक्ता विभाग करेगा ।
  2. राज्य सरकार स्वयं तंत्र बनाएगी,जो कंपनी और डायरेक्ट सेलर द्वारा दिशानिर्देश का पालन की निगरानी रखेगी।
  3. कंपनी जिस प्रदेश में भी डायरेक्ट सेलिंग बिज़नेस चला रही हो, उस प्रदेश के उपभोक्ता विभाग को वचनपत्र भेजेगी। जिसमे वह दिशानिर्देश पालन करने का वचन देगी और अपने बिज़नेस की जानकारी समय-समय पर देती रहेगी।

Direct Selling Guidelines 2022 in Hindi

इसी तरह इस pdf मे बहुत सी डायरेक्ट सेलिंग नीतियों को हिंदी और English दोनों भाषा में डिटेल्स में बताया गया है। आप इस pdf को नीचे दिए गए लिंक से डाऊनलोड कर सकते हैं। direct selling guideline in hindi 2022 pdf file download, network marketing guideline download, direct selling guideline 2022, Direct selling rules 2021

निष्कर्ष

आज के इस लेख में हमने डायरेक्ट सेल्लिंग गाइडलाइन हिंदी में 2022 के बारे में विस्तार से जाना। मुझे उम्मीद है की आपको हमारा यह लेख बहुत पसंद आया होगा, तो प्लीज इस लेख डायरेक्ट सेल्लिंग गाइडलाइन हिंदी में 2022 का pdf फाइल डाउनलोड करें, नेटवर्क मार्केटिंग गाइडलाइन (direct selling guideline in Hindi 2022 pdf file download, network marketing guideline, Direct selling rules 2021, Direct Selling Laws 2021) को अपने सभी दोस्तों के साथ में जरुर शेयर करे।

Author

Author

Gulsan Ali

मेरा नाम Gulsan Malik हैं । मैंने Delhi College of Engineering ( जो अब Delhi Technological University हो गया हैं। ) से Electrical Engineering में B.Tech.किया हैं। मैं पिछले 3 साल से Successfully Network Marketing सिख रहा हूँ। इस समय में मैंने बहुत से Direct Selling / Network Marketing कंपनियों की study की है। मेरा उद्देश्य आपको नेटवर्क मार्केटिंग के बारे में best से best information देना है।

Related Posts

1 thought on “Direct Selling Guidelines 2022 PDF in Hindi”

  1. Is Direct selling or MLM is leagle in India after this guideline 2021. Because every company goes on peramid sceem. Plz guide me sir.

    Reply

Leave a comment

Advertisements
error: Alert: Content is protected !!